Close
Skip to content
By हेमा बिष्ट
Format: पेपरबैक
Age Recommendation: Above 13 Years
  • मोहब्बत की मीठी हूक है। एक ख़लिश है। मोहब्बत ग़ुलामी है या इंक़लाब, जो भी है, मगर है ख़ूबसूरत। कॉलेज और हॉस्टल के दिनों में Long Distance Romantic Relationship की धीमी आँच पर सुलगते दो दिलों की ख़ुशनुमा कहानी है यह।

    आपके दिल में इश्क़ की तिश्नगी को एक मर्तबा फिर से जगा देगी यह किताब। Let’s fall in love again. 180 मिनट का अधिकतम समय लगेगा इस पुस्तक को पूरा पढ़ने में। यह आपके फ्लाइट, ट्रेन और रोड के सफ़र की बेहतरीन हमसफ़र बन सकती है। Perfect to read while travelling.

    किताब में प्रेम से लबरेज़ कुछ लम्हे आपको मुँह में रक्खे रसीले रसगुल्ले से लगेंगे, तो कभी मोतीचूर के लड्डू की तरह मुँह तक पहुँचने से पहले ही आपके हाथों में बिखर जायेंगे और आपके हिस्से आएगा एक मीठा मलाल। लेखिका का दावा है कि यह किताब प्यार की एक पुकार है जिसे अगर आप थाम लेंगे, तो मायूस नहीं होंगे।

    यह किताब शब्दों के फ्रेम से झाँकते हर्षा के धड़कते दिल की सेल्फी है। इसमें पलाश की ख़ूबसूरती और तपिश है। पलाश की बेरुख़ी हर्षा के दिल में एक हठीली ख़्वाहिश जगा देती थी। हर्षा का प्यार अगर काजू की बर्फी था तो उसका हठ बर्फी पर सजा चांदी का वरक़। हठ कि तुम्हें तो पाकर ही रहूँगी।

Share your thoughts!

Let us know what you think...

What others are saying

There are no contributions yet.

×

Login

Register

A password will be sent to your email address.

Your personal data will be used to support your experience throughout this website, to manage access to your account, and for other purposes described in our privacy policy.

Continue as a Guest

Don't have an account? Sign Up

साहित्य विमर्श प्रकाशन

Contact

Email: contact@sahityavimarsh.in

2nd Floor, 987,Sec-9
Gurugram Haryana, 122006

Subscribe Newsletter

About Us

साहित्य विमर्श प्रकाशन, वह मंच है, जो भाषा-विशेष, विधा-विशेष, क्षेत्र-विशेष, लेखक-विशेष आदि बंधनो से पाठकों, लेखकों एवं प्रकाशकों को आजादी प्रदान करता है। हम प्रकाशन व्यवसाय के तीन स्तंभ – पाठक, लेखक एवं प्रकाशक को एक साथ लेकर चलने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

पाठकों को कम से कम दर में उच्चकोटि की पठन-सामग्री मुहैया कराना, लेखकों के मन के भाव व उनकी कलम की कार्यकुशलता को उचित स्थान देना एवं प्रकाशकों और उनकी पुस्तकों को अधिकाधिक पाठकों तक पहुंचाना। 

© साहित्य विमर्श प्रकाशन 2021 

Designed and Managed by Sahaj Takneek