Skip to content

ध्यान दें

वर्तमान प्रकाशन Schedule के अनुसार दिसम्बर 2023 तक के प्रकाशन के लिए रचनाएँ हमें प्राप्त हो चुकी हैं। आपसे अनुरोध है कि धैर्य रखें एवं ईमेल पर प्रत्युत्तर का इंतज़ार करें। चूँकि यह एक लंबा समय है, अतः आप अन्य प्रकाशन संस्थाओं के पास भी अपनी रचना को प्रकाशन के लिए भेज सकते हैं।

साहित्य विमर्श से रचना प्रकाशन की प्रक्रिया 

1) लेखक अपनी रचना के कुछ हिस्से (कम से कम 5000 शब्द) एवं कथा का सार (लगभग) 1000 शब्द) हमें ईमेल द्वारा भेजें।

2) लेखक ईमेल में अपना परिचय भी भेजें।

3) अंश प्राप्त होने के उपरांत उसे साहित्य विमर्श प्रकाशन के एडिटोरियल टीम के पास मूल्यांकन के लिए भेजा जाएगा। इस मूल्यांकन प्रक्रिया की अधिकतम समय सीमा 28 कार्य दिवस (वर्किंग डेज) है।

4) साहित्य विमर्श प्रकाशन की एडिटोरियल टीम द्वारा प्राप्त फीडबैक आपको तय समय सीमा में भेज दिया जाएगा।

5) साहित्य विमर्श प्रकाशन इस फीडबैक के आधार पर आपसे रचना की पूरी पांडुलिपि मँगवाने का निर्णय करेगा। 

6) पूरी पांडुलिपि प्राप्त होने और साहित्य विमर्श टीम द्वारा उसके मूल्यांकन के बाद ही रचना को प्रकाशित करने के बारे में अंतिम निर्णय संभव होगा। यह मूल्यांकन अधिकतम 60 कार्य दिवसों में कर लिया जाएगा।

7) पांडुलिपि यूनिकोड फॉन्ट (जैसे-मंगल या कोकिला) और docx फॉर्मैट में ही स्वीकार की जाएगी। रचना या अंश भेजने से पहले एक बार प्रूफ की त्रुटियों को अवश्य जाँच कर लें। प्रूफ की अत्यधिक त्रुटियाँ टीम के निर्णय को प्रभावित कर सकती हैं।

8) रचना प्रकाशन के लिए स्वीकार्य होने के पश्चात लेखक के साथ रॉयल्टी एग्रीमेंट शेयर किया जाएगा एवं रचना के प्रकाशन का schedule शेयर किया जाएगा।

आप अपनी रचना का अंश, उसका सार एवं अपना परिचय editor@sahityavimarsh.in पर भेज सकते/सकती हैं। (ईमेल को स्पैम में जाने से बचाने के लिये इस ईमेल आई डी को अपने ईमेल कांटेक्ट लिस्ट में जोड़ लें)